क्या होता है टाइम आउट, कैसे हुए मैथ्यूज आउट; अब तक इतने खिलाड़ी हो चुके हैं अनोखे तरीके से आउट

Angelo Mathews What is Time out (टाइम आउट ) : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का इतिहास करीब 146 साल पुराना हैं। मैच में अभी तक अपने बल्लेबाजों को अलग- अलग तरीके से आउट होते हुए देखा होगा। लेकिन आज दिल्ली के अरुण जेटली में जो कुछ हुआ, वो आपने तो क्या आपके पिता और दादा ने भी शायद ही देखा होगा।

विश्व कप 2023 के मुकाबले में श्रीलंका और बांग्लादेश के बीच खेले जा रहे मुकाबले में श्रीलंका के पूर्व कप्तान एंजलो मैथ्यूज को टाइम आउट दे दिया गया। वैसे तो बहुत से लोगों ने इसका नाम भी नहीं सुना होगा कि ये आखिर होता क्या है।

जिन्होंने इसका नाम सुना होगा, उन्होंने ऐसा होते हुए नहीं देखा होगा। इसकी गारंटी है और इसके नियम भी नहीं पता होंगे। तो चलिए हम आपको बताते हैं कि टाइम आउट होता क्या है और बल्लेबाज एंजलो मैथ्यूज कैसे आउट करार दिए गए।

एंजलो मैथ्यूज को दिया गया टाइम आउट

विश्व कप 2023 का 38वां मैच आज दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में श्रीलंका और बांग्लादेश के बीच हो रहा था। श्रीलंका की टीम पहले बल्लेबाजी के लिए उतरी। सदीरा समरविक्रमा के आउट होने के बाद क्रीज पर एंजलो मैथ्यूज को आना था, वे आए भी, लेकिन थोड़ी देरी से।

सदीरा के आउट होने के बाद दो मिनट बाद। इसलिए उन्हें अंपायर ने टाइम आउट दे दिया। आईसीसी के नियमों के अनुसार कोई बल्लेबाज जब आउट होता है तो उसके बाद तीन ​मिनट के भीतर भीतर नए बल्लेबाज को क्रीज पर आ जाना चाहिए।

लेकिन विश्व कप में ये वक्त दो ही मिनट का है। मैदान पर आने के बाद एंजलो मैथ्यूज ने अंपायर को बताया कि उनका हेलमेट टूट गया था, इसलिए वे देरी से आ पाए हैं, इसलिए उन्हें कुछ राहत दी जाए।

लेकिन न तो मैदानी अंपायर और न ही विरोधी टीम के कप्तान शाकिब अल हसन इसके लिए तैयार हुए। इसके बाद मन मसोस कर ​बल्ला पटकते हुए एंजलो मैथ्यूज को वापस पवेलियन जाना पड़ा। लेकिन इतना जरूर है कि एंजलो मैथ्यूज का नाम क्रिकेट इतिहास की किताब में जरूर दर्ज हो गया है।

अब तक ये बल्लेबाज हुए हैं अनोखे तरीके से आउट

अब तक इंटरनेशलन क्रिकेट को 146 साल हो गए हैं, लेकिन कोई भी बल्लेबाज इस तरह से आउट नहीं हुआ है। हां, इतना जरूर है कि क्रिकेट में अनोखे तरह से अब तक कई बल्लेबाज आउट हुए हैं। इसमें फील्डिंग में बाधा डालने में सबसे ज्यादा बल्लेबाज आउट दिए गए हैं।

साल 1986 में पहली बार अजीबो गरीब तरह से मोहिंदर अमरनाथ आउट हुए थे। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे मुकाबले में अमरनाथ handled the ball के कारण आउट दिए गए थे। वहीं पाकिस्तान के कप्तान रहे रमीज राजा साल 1987 में फील्ड में बाधा डालने के कारण आउट दिए गए।

मोहिंदर अमरनाथ फिर से साल 1989 में बाधा डालने के कारण श्रीलंका के खिलाफ आउट हुए थे। साउथ अफ्रीका के DJ Cullinan भी handled the ball के कारण आउट दिए गए थे। वहीं पाकिस्तान के कप्तान रहे इंजमाम उल हक मोहम्मद हफीज और अनवर अली भी फील्ड में बाधा डालने के कारण आउट हुए थे।

इंग्लैंड के खिलाड़ी बेन स्टोक्स भी इसी कारण साल 2015 में आउट हुए थे। वहीं जिम्बाब्वे के Chibhabha हेंडलिंग द बॉल के बाद साल 2019 में यूएसए के मार्शल और श्रीलंका के गुनतिलका भी फील्ड में बाधा डालने के कारण आउट हुए। अब ऐसा पहला मौका है, जब इंटरनेशनल क्रिकेट में कोई खिलाड़ी टाइम आउट दिया गया है।

Facebook PageClick Here
WebsiteClick Here
Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button