Kho Gaye Hum Kahan Movie Review: This film shows the addiction of social media in present times, acting and story are also strong.

अनन्या पांडे, आदर्श गौरव, सिद्धांत चतुवेर्दी और कल्कि कोचलिन स्टारर फिल्म खो गए हम कहां आखिरकार ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो गई है। फिल्म का ट्रेलर रिलीज होने के बाद से ही लोग एक बार फिर जोया अख्तर के काम और सिद्धांत चतुवेर्दी, कल्कि कोचलिन और आदर्श गौरव जैसे सितारों की एक्टिंग का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे. आज आखिरकार यह फिल्म ओटीटी प्लेटफॉर्म नेटफ्लिक्स पर रिलीज हो गई है। ऐसे में आइए जानते हैं फिल्म का रिव्यू।

//
तीन दोस्तों की कहानी
जोया अख्तर ने एक बार फिर दमदार लेखन किया है। मौजूदा दौर में सोशल मीडिया के प्रभाव और प्रभाव को दिखाने की अच्छी कोशिश करते हुए जोया अख्तर ने एक ऐसी कहानी बनाई है जिसमें तीन सबसे अच्छे दोस्त एक-दूसरे से बंधे हुए हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि कैसे लोग सोशल मीडिया में इतने मशगूल हो गए हैं कि अब वे इसके बुरे प्रभावों को नजरअंदाज करना भी जानते हैं। सोशल मीडिया की दुनिया में हर बात को पर्दे पर रखना कितना सही और कितना पाखंड है, ये साबित करने की पहल जोया अख्तर ने की है। 

//
अर्जुल वरैन का जबरदस्त निर्देशन
अर्जुन वरण सिंह के निर्देशन में बनी यह फिल्म आंखें खोलने वाली है. फिल्म के मुख्य किरदार अहाना (अनन्या पांडे), इमाद (सिद्धांत चतुर्वेदी) और नील (आदर्श गौरव) की उम्र लगभग 25 साल दिखाई गई है। ये तीनों सबसे अच्छे दोस्त हैं और अपनी जिंदगी का सबसे अच्छा दौर जी रहे हैं। इसी बीच धीरे-धीरे एक-एक करके तीनों की असल जिंदगी सामने आने लगती है और फिर उन्हें जिंदगी का असली मतलब समझ आता है। ऐसे में वे अपने सोशल मीडिया जीवन और वास्तविकता के बीच संतुलन बनाए रखने में विफल होने लगते हैं और फिर जीवन का अंधकारमय दौर आता है।

//
स्टार कास्ट दमदार दिखी

फिल्म की स्टारकास्ट और उनकी एक्टिंग की बात करें तो हमेशा की तरह कल्कि कोचलिन ने बेहद कम समय में एक बार फिर अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया है। इस फिल्म की कास्टिंग बहुत ही सूक्ष्म तरीके से की गई है क्योंकि फिल्म के तीनों किरदार अपने किरदारों में पूरी शिद्दत के साथ घुसे हैं, फिर चाहे वो अन्नया पांडे ही क्यों न हों जो अपनी एक्टिंग के लिए हमेशा ट्रोल होती रहती हैं।  तीनों स्टार्स के बीच जबरदस्त केमिस्ट्री ने फिल्म को अंत तक बांधे रखा। हालाँकि, फिल्म कुछ जगहों पर थोड़ी खिंची हुई लग सकती है। सिद्धांत चतुवेर्दी ने बेहद शांत लड़के का किरदार निभाया है लेकिन अंदर ही अंदर वह कई राज छुपाए हुए है। जबकि आदर्श गौरव एक बेहद असुरक्षित किरदार है जिसे जीवन में कभी संतुष्टि नहीं मिलती है। फिल्म में अनन्या पांडे अपने ब्रेकअप से उबरने में लगी हुई हैं।

//
सोशल मीडिया ड्रामा
भावनाओं, द्वंद्वों, उलझनों और शोर से भरी जिंदगी में ठहराव की तलाश कर रहे तीन दोस्तों की कहानी को बखूबी दिखाया गया है. इस बार जोया अख्तर एक बार फिर अपनी लेखनी में पास हो गई हैं. फिल्म में हैकिंग, स्टॉकिंग, लाइक, शेयर और कमेंट की ऑनलाइन दुनिया के लगभग हर पन्ने को उजागर किया गया है, जो आज की युवा पीढ़ी को पसंद आने वाला है।


source

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button