दिल्ली में तीन दिनों तक Online delivery बंद, जानिए एनसीआर में क्या खुला और क्या है Close

[ad_1]

दिल्ली में तीन दिनों तक Online delivery बंद- G20 शिखर सम्मेलन के दौरान पूरे दिल्ली एनसीआर मे जरूरी सामान को छोड़कर सभी आवाजाही को बंद कर दिया गया है। वही ऑनलाइन सामान मंगवाने के लिए भी यह एक जरूरी खबर है।

 सभी ऑनलाइन  डिलीवरी सेवा को रोक दिया गया है

 दिल्ली में तीन दिन तक दवाइयों को छोड़कर  सभी ऑनलाइन डिलीवरी को रोक दिया गया है. इसका मतलब तीन दिन तक लोग यहां पर ऑनलाइन सामान नहीं मंगवा पाएंगे।

 लोग एनडीएमसी क्षेत्र में  स्विग्गी जोमैटो  और बिग बॉस्केट से समान नहीं मंगवा पाएंगे. लेकिन लोग ऑनलाइन मेडिसिन मंगवा सकते हैं।

 बाहर जा सकते हैं

 बाकी सभी जरूरी  सामग्री को खरीदने के लिए बाहर जा सकते हैं. g20 शिखर सम्मेलन भले ही देश की राजधानी दिल्ली में हो रहा है।

 लेकिन इसकी वजह से डिलीवरी सेवाएं  पूरी दिल्ली में प्रभावित हो रही है। इसका प्रमुख कारण यह है कि ऑनलाइन डिलीवरी कंपनियों के  वेयरहाउस दिल्ली और एनसीआर में है।

नोएडा गुरुग्राम या फिर फरीदाबाद से आएगा

 इसी कारण कभी दिल्ली का आर्डर नोएडा से कलेक्ट किया जाता है. तो कभी नोएडा का आर्डर फरीदाबाद और गुरुग्राम से यानी कि अगर दिल्ली से कोई सामान मंगवाया जा रहा है तो हो सकता है नोएडा गुरुग्राम या फिर फरीदाबाद से आने वाला है.

 दूसरा बड़ा कारण यह है कि  हो सकता है कंपनियों के डिलीवरी बॉय भी  दिल्ली और एनसीआर के शहरों से आते हो. यदि इनको डिलीवरी  की अनुमति दी जाएगी तो यातायात पुलिस  द्वारा लगाए गए  प्रतिबंधों का बड़ा पैमाना पर उल्लंघन होगा।

 आना जाना रोक दिया जायेगा 

 उसके अलावा विदेशी मेहमानों के  आने जाने के समय में   रूट मे बाधा पड़ सकती है. चलिए आपको बता देते हैं कि जी-20 के दौरान  दिल्ली में कौन-कौन सी चीज बंद रहेगी।

 सभी 38 मेट्रो स्टेशन के 67 गेट  3 दिन तक खुले रहेंगे। जिस स्टेशन से VVIP काफिल निकलेगा वहां पर 5 से 10 मिनट  आना जाना रोक दिया जाएगा।

 सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन बंद रहेगा

 इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन पूरे तरीके से बंद रहेगा। सामानों की ऑनलाइन डिलीवरी बंद रहेगी. जरूरी वस्तुएं फल दूध सब्जी के आर्डर पर नहीं लगेगा प्रतिबंध।

इसे भी पढ़े- Delhi Street Food : ये है Delhi के फेमस चाट प्वॉइंट्स, खायेगें और दिवाने हो जायेगें

Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button